Home कटिहार सीएलसी रशीद काटने के नाम पर अवैध वसूली

सीएलसी रशीद काटने के नाम पर अवैध वसूली

4 second read
Comments Off on सीएलसी रशीद काटने के नाम पर अवैध वसूली
0
353

सीएलसी रशीद काटने के नाम पर अवैध वसूली

कटिहार। विश्वविद्यालय के बिना अनुशंसा के सेवानिवृत्त कर्मियों से डीएस कालेज प्रबंधन द्वारा साजिश के तहत के कार्य लिए जाने से इन दिनों छात्र-छात्राएं त्रस्त है। बार-बार शिकायत के बाद भी कर्मी रसीद काटने के नाम पर अवैध उगाही से बाज नहीं आने पर शनिवार 14 सितंबर को पार्ट थर्ड 15-18 वाणिज्य के कई छात्र-छात्राओं ने त्रस्त होकर पूर्णिया प्रति कुलपति से लिखित शिकायत की है छात्रा सती विश्वास, श्वेता भारती, रोशनी खातून, श्रुति कुमारी छात्र शकील अहमद आवेदन में प्रति कुलपति को बताया है कि 15 18 के सीएलसी लेने के लिए डीएस कॉलेज पहुंची थी सीएलसी रशीद के लिए 10 की राशि निर्धारित है लेकिन को 50 से 100 तक मांग की गई। छात्र छात्राओं ने बताया है कि सेवानिवृत्त कर्मी द्वारा कहा गया की सेवानिवृत्त हैं। हमें प्रबंधन की ओर से कोई मानदेय बदला नहीं दी जाती है छात्र-छात्राओं ने आरोप लगाया है कि प्रबंधन की मिलीभगत से इस तरह के कार्यों को अंजाम दिया जाता है।

पहले भी दिया जा चुका है इस तरह का अंजाम

मालूम हो की सेवानिवृत्त कर्मी द्वारा इससे पूर्व भी राशि वसूली का मामला उजागर होने पर विद्यार्थी परिषद के छात्र नेताओं ने प्रबंधन से शिकायत की थी। जिस के उपलक्ष में प्रति कुलपति डॉ राजनाथ यादव द्वारा प्रचार्य से जांच कर कार्रवाई करने की बात कही गई थी पुनः प्राचार्य द्वारा मामले की बिना जाँच पड़ताल के व्यक्तियों को यह कह कर रक्रह लिया गया की विवि से पैचअप कर लिया गया छात्र छात्राओं सहित छात्र संघ के महासचिव विक्रम कुमार प्रति कुलपति से जांच कर कार्यवाही करने की अपील की है।

कहते हैं प्रति कुलपति

इस बाबत प्रति कुलपति राजनाथ यादव ने बताया है कि प्रचार्य से शोकाज किया जाएगा। आखिर किन आधार पर सेवानिवृत्त कर्मियों से काउंटर पर बैठाकर रसीद काटने का काम करवा जाता है।

स्रोत-हिन्दुस्तान

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In कटिहार
Comments are closed.

Check Also

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख सभी हैं दंग

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख…