Home खास खबर प्रधानमंत्री मोदी ने सिंगल यूज प्लास्टिक का मुद्दा जी-7 में उठाया, सभी देशों ने किया समर्थन

प्रधानमंत्री मोदी ने सिंगल यूज प्लास्टिक का मुद्दा जी-7 में उठाया, सभी देशों ने किया समर्थन

6 second read
Comments Off on प्रधानमंत्री मोदी ने सिंगल यूज प्लास्टिक का मुद्दा जी-7 में उठाया, सभी देशों ने किया समर्थन
0
235

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को जी-7 समिट में सिंगल यूज प्लास्टिक का मुद्दा उठाया. इसके अलावा पीएम मोदी ने कई अहम मुद्दों को भी यहां उठाया. इसमें उन्होंने सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने, जल संरक्षण, सौर ऊर्जा को दोहन, पेड़-पौधे और जीव जंतुओं के संरक्षण की दिशा में भारत के व्यापक प्रयासों का जिक्र किया.

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के विशेष अनुरोध पर मोदी फ्रांस के समुद्र तटीय शहर बिआरित्ज में जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने पहुंचे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी-7 समिट में सत्र को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने एक बार इस्तेमाल में लाई जाने वाली (सिंगल यूज) प्लास्टिक को खत्म करने, जल संरक्षण, सौर ऊर्जा के दोहन और पेड़-पौधे एवं जीव जंतुओं के संरक्षण की दिशा में भारत के व्यापक प्रयासों का जिक्र किया.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए भारत की प्रतिबद्धताओं को दोहराते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘जैवविविधता (बायोडायवर्सिटी), सागर, जलवायु’ पर जी-7 बिआरित्ज शिखर सम्मेलन के समर्पित सत्र में शरीक हुए. उन्होंने घटती जैवविविधता, जलवायु परिवर्तन, जल संकट और समुद्री प्रदूषण की समस्या के हल की दिशा में भारत के योगदान का जिक्र किया.’

‘दुनियाभर में प्रत्येक वर्ष करीब 300 मिलियन टन प्लास्टिक प्रोड्यूस होती है’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले हफ्ते पेरिस स्थित यूनेस्को मुख्यालय में भारतीय समुदाय को अपने संबोधन में कहा था कि भारत 2030 के लिए लक्षित ‘कॉन्फ्रेंस ऑफ द पार्टीज’ (सीओपी 21), जलवायु परिवर्तन लक्ष्यों में अधिकांश को अगले डेढ़ बरस में हासिल कर लेगा. गौरतलब है कि भारत ने जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते का 2016 में अनुमोदन किया था और इस समझौते में शामिल होने वाला वह 62वां राष्ट्र बन गया.

सिंगल यूज प्लास्टिक या डिस्पोजल प्लास्टिक वो होती है जिसे हम फेंकने से पहले सिर्फ एक बार इस्तेमाल करते हैं. सिंगल यूज प्लास्टिक की बात करें तो यह हम प्लास्टिक बैग, स्ट्रो, कॉफी स्टिरर, सोडा और पानी की बोतलों के रूप में इस्तेमाल करते हैं. प्लास्टिक फ्री चैलेंज की स्टडी की मानें तो दुनियाभर में प्रत्येक वर्ष करीब 300 मिलियन टन प्लास्टिक प्रोड्यूस होती है, इसमें से सिर्फ आधी ही डिस्पोजेबल होती है. वहीं दुनियाभर में सिर्फ 10-13 प्रतिशत प्लास्टिक को ही रिसाइकल कर पाते हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम में भी कई अहम मुद्दों की तरफ देश का ध्यान खींचा था. इसमें प्लास्टिक होने वाले प्रदूषण का भी जिक्र था. प्रधानमंत्री ने कहा था कि इस बार 2 अक्टूबर को जब बापू की 150वीं जयंती मनाई जाएगी तो वे इस मौके पर पूरे देश में प्लास्टिक के खिलाफ एक नए जन-आंदोलन की नींव रखेंगे. लेकिन देश में तो अब भी विभिन्न स्थानों पर प्लास्टिक के खिलाफ आंदोलन चल रहा है. देश और दुनिया में प्लास्टिक के प्रदूषण को कम करने के नए-नए इनोवेशन किए जा रहे हैं. कहीं घर रोशन हो रहे हैं तो कहीं सड़कें बन रही हैं. यही इनोवेशन प्रधानमंत्री के सपनों को पूरा करेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी के सिंगल यूज प्लास्टिक के मुद्दे को उठाने की दुनियाभर में तारीफ हो रही है. इसके अलावा देश में भी कई लोगों ने पीएम मोदी के इस कदम का समर्थन किया है. बॉलीवुड स्टार आमिर खान ने भी पीएम मोदी का समर्थन किया. आमिर खान ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट की है जिसमें उन्होंने मोदी की बात का समर्थन किया है. अपनी पोस्ट में आमिर ने लिखा, ‘माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए ‘सिंगल यूज प्लास्टिक’ को रोकने के मिशन का हम सभी को सपोर्ट करना चाहिए. यह हम सब पर है कि हम ‘सिंगल यूज प्लास्टिक’ बंद करें.’

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In खास खबर
Comments are closed.

Check Also

प्रियंका चोपड़ा हुईं खून से लथ-पथ, फैन्स हुए परेशान, एक्ट्रेस ने वीडियो शेयर कर बताई पूरी बात

प्रियंका चोपड़ा हुईं खून से लथ-पथ, फैन्स हुए परेशान, एक्ट्रेस ने वीडियो शेयर कर बताई पूरी …