Home खास खबर विधानसभा चुनाव : उप्र में बढ़त के साथ भाजपा चार राज्यों में आगे, आप पंजाब में जीत की ओर

विधानसभा चुनाव : उप्र में बढ़त के साथ भाजपा चार राज्यों में आगे, आप पंजाब में जीत की ओर

3 second read
Comments Off on विधानसभा चुनाव : उप्र में बढ़त के साथ भाजपा चार राज्यों में आगे, आप पंजाब में जीत की ओर
0
137

विधानसभा चुनाव : उप्र में बढ़त के साथ भाजपा चार राज्यों में आगे, आप पंजाब में जीत की ओर

दिल्ली, 10 मार्च (भाषा) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राजनीतिक दृष्टि से अहम उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में लगातार दूसरी बार जीत की ओर बढ़ रही है और तीन अन्य राज्यों के रुझानों में बढ़त बनाए हुए है, जबकि आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब में जबरदस्त जीत के साथ इतिहास रचती दिखाई दे रही है।

देश के पांच राज्यों में फरवरी और मार्च में मतदान हुआ था। केंद्र में सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा दिन के अंत तक इनमें से चार राज्यों में जीत का परचम लहरा सकती है। निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के अनुसार, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में भाजपा आगे है।

सभी की निगाहें राजनीतिक रूप से अहम उत्तर प्रदेश पर टिकी हैं, जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार सत्ता में लगातार दूसरी बार काबिज होने की कोशिश कर रही है।

उत्तर प्रदेश की कुल 403 सीटों में से 401 सीट के उपलब्ध रुझानों के अनुसार, सत्तारूढ़ दल 243 से ज्यादा सीटों पर आगे हैं। इससे पहले 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 312 सीट जीती थीं। भाजपा इस बार अपने पिछले प्रदर्शन से भले ही पीछे है, लेकिन वह आधी से अधिक सीट आसानी से जीतती नजर आ रही है। पिछले तीन दशकों से अधिक समय में पहली बार ऐसा होगा, जब कोई दल राज्य में लगातार दूसरे कार्यकाल के लिए सरकार बनाएगा।

चुनाव प्रचार रैलियों में भारी भीड़ जुटाने में सफल रहे अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली सपा 125 सीट पर बढ़त बनाकर दूसरे स्थान पर है। सपा ने पिछली बार चुनाव में 47 सीट पर जीत हासिल की थी। सपा सहयोगी राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) क्रमश: 10 और चार सीट पर आगे है।

भगवा दल की सहयोगी पार्टी अपना दल (सोनेलाल) 12 सीट पर आगे है। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाद्रा के राज्य पर विशेष ध्यान देने के बावजूद उनकी पार्टी मात्र दो सीट पर आगे है और बसपा तीन सीट पर बढ़त बनाए हुए है।

राज्य में भाजपा को 42.4 प्रतिशत और सपा को 31.6 प्रतिशत वोट मिलने का अनुमान जताया गया था। इस राज्य में 80 लोकसभा सीट हैं। इस राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं ने जोर-शोर से चुनाव प्रचार किया था।

रुझानों में अपनी पार्टी की बढ़त की खुशी व्यक्त करते हुए भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों पर भरोसा जताया है। उनके कई पार्टी सहयोगियों ने खुशी मनाते हुए ‘जय श्री राम’ ट्वीट किया।

दो साल बाद होने वाले आम चुनाव से पहले हुए इन विधानसभा चुनावों को अहम माना जा रहा है। इन चुनावों में ‘आप’ भी दिल्ली से बाहर अपनी पकड़ मजबूत करने में कामयाब होती दिख रही है।

रुझानों के अनुसार, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी पंजाब की 117 सीटों में से 90 पर आगे है। कांग्रेस 18 सीट पर बढ़त के साथ दूसरे स्थान पर है। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के पास सात और भाजपा के पास पांच सीट पर बढ़त है।

केजरीवाल ने पार्टी के पंजाब में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार भगवंत मान के साथ एक फोटो ट्वीट करते हुए लिखा, ‘‘इस इंकलाब के लिए पंजाब के लोगों को बहुत-बहुत बधाई।’’

इस बीच, ‘आप’ नेता राघव चड्ढा ने संगरूर में पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार भगवंत मान के किराए के आवास पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा ‘‘ आने वाले दिनों में ‘आप’ एक राष्ट्रीय दल के रूप में उभरेगी….पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस की जगह ले लगी।’’

‘आप’ की मजबूत लहर के बीच जलालाबाद सीट पर पंजाब में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) प्रमुख सुखबीर सिंह बादल तथा चमकौर साहिब एवं भदौड़ विधानसभा सीटों पर कांग्रेस नेता एवं मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पीछे चल रहे हैं। कांग्रेस छोड़कर भाजपा के साथ हाथ मिलाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और कांग्रेस की पंजाब इकाई के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू समेत कई बड़े नेता पीछे हैं।

पंजाब में 2017 में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 77 सीट जीतकर शिअद-भाजपा गठबंधन का शासन समाप्त किया था। ‘आप’ को उस समय 20 सीट और शिअद-भाजपा को 18 सीट मिली थीं।

मतगणना की प्रक्रिया आगे बढ़ने के साथ भाजपा उत्तर प्रदेश के अलावा गोवा, मणिपुर और उत्तराखंड में भी बढ़त बनाते दिख रही है।

गोवा में सत्तारूढ़ दल लगातार तीसरी बार जीत की ओर आगे बढ़ रहा है। भाजपा कुल 40 में से 19 सीट पर आगे है, जबकि उसकी निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस 11 सीट पर बढ़त बनाए हुए है। महाराष्ट्र गोमंतक पार्टी (एमजीपी) तीन सीट पर आगे है। गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) और आम आदमी पार्टी (आप) एक-एक सीट पर आगे हैं, जबकि निर्दलीय उम्मीदवार तीन सीट पर बढ़त बनाए हुए है।

उत्तराखंड की तस्वीर निर्णायक नजर आ रही है। राज्य की सभी 70 सीट के प्राप्त रुझान के अनुसार, भाजपा 41 सीट पर और कांग्रेस 26 सीट पर आगे है। उत्तराखंड में कांग्रेस के महासचिव और प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत लालकुआं सीट पर भाजपा के मोहन सिंह बिष्ट से पीछे चल रहे हैं। भाजपा नेता एवं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी खटीमा सीट पर पीछे हैं।

मणिपुर की 60 में से 41 सीट के उपलब्ध रुझानों के अनुसार, भाजपा 20 और कांग्रेस तीन सीट पर आगे है। नेशनल पीपल्स पार्टी की चार और नगा पीपल्स फ्रंट की सात सीट पर बढ़त है।

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In खास खबर
Comments are closed.

Check Also

पलंग को लेकर हुआ BIGG BOSS 16 का पहला झगड़ा, अर्चना गौतम से भिड़ीं ‘छोटी सरदारनी’

पलंग को लेकर हुआ BIGG BOSS 16 का पहला झगड़ा, अर्चना गौतम से भिड़ीं ‘छोटी सरदारनीR…