Home अररिया बिहार के इन जिलों में बाढ़ का खतरा, खाली कराए जा रहे इलाके, खोले गए बराज के गेट

बिहार के इन जिलों में बाढ़ का खतरा, खाली कराए जा रहे इलाके, खोले गए बराज के गेट

1 second read
Comments Off on बिहार के इन जिलों में बाढ़ का खतरा, खाली कराए जा रहे इलाके, खोले गए बराज के गेट
0
78

बिहार के इन जिलों में बाढ़ का खतरा, खाली कराए जा रहे इलाके, खोले गए बराज के गेट

नेपाल में भारी बारिश से बिहार के कई जिलों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. बिहार के सुपौल में कोसी नदी और बगहा में गंडक नदी के जलस्तर में भारी वृद्धि हुई है.

 

नेपाल में भारी बारिश से बिहार के कई जिलों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. बिहार के सुपौल में कोसी नदी और बगहा में गंडक नदी के जलस्तर में भारी वृद्धि हुई है. हालत ये है कि सुपौल में बराज के सभी 56 गेट खोल दिए गए हैं. कोसी बराज ने 34 सालों का रिकॉर्ड तोड़ा है. रात 2 से 4 बजे तक 4 लाख 62 हजार क्यूसेक पानी आया है. दोपहर बाद कई इलाकों में पानी घुसने की आशंका है. वहीं, बगहा में बैराज से 2 लाख 83 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. जिसके बाद बाढ़ की आशंका से लोग भयभीत हैं.

वाल्मीकिनगर बैराज के खोले गए 36 गेट

बगहा में गंडक नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है. नेपाल में हो रही बारिश से गंडक नदी में उफान देखा जा रहा है. वाल्मीकिनगर बैराज के सभी 36 फाटक खोले गए हैं. बैराज से 2 लाख 83 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. बैराज पर तैनात अधिकारियों को अलर्ट किया गया है. लोगों से तटबंधों पर सुरक्षित वापस लौटने की अपील की जा रही है.

मधुबनी और बेतिया में बाढ़ का खतरा

वहीं, मधुबनी के मधेपुर प्रखंड में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. मधुबनी प्रशासन ने चेतावनी जारी की. नेपाल में मूसलाधार बारिश से कोसी का रौद्र रूप देखने को मिल रहा है. बेतिया में भी बाढ़ को लेकर हाई अलर्ट जारी किया गया है. डीएम ने अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है. प्रभावित क्षेत्रों पर 24 घंटे निगरानी का आदेश दिया गया है. डीएम दिनेश राय खुद पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

 

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In अररिया
Comments are closed.

Check Also

बिहार के 100 शहरों के विकास के लिए मास्टर प्लान तय, जानें सम्राट चौधरी का बड़ा एलान

बिहार के 100 शहरों के विकास के लिए मास्टर प्लान तय, जानें सम्राट चौधरी का बड़ा एलान नीतीश …