Home खास खबर Hathras Stampede: हाथरस भगदड़ मामले में मुख्य आरोपी और 1 लाख के इनामी देव प्रकाश मधुकर ने किया सरेंडर, भोले बाबा का अब तक पता नहीं

Hathras Stampede: हाथरस भगदड़ मामले में मुख्य आरोपी और 1 लाख के इनामी देव प्रकाश मधुकर ने किया सरेंडर, भोले बाबा का अब तक पता नहीं

2 second read
Comments Off on Hathras Stampede: हाथरस भगदड़ मामले में मुख्य आरोपी और 1 लाख के इनामी देव प्रकाश मधुकर ने किया सरेंडर, भोले बाबा का अब तक पता नहीं
0
14

Hathras Stampede: हाथरस भगदड़ मामले में मुख्य आरोपी और 1 लाख के इनामी देव प्रकाश मधुकर ने किया सरेंडर, भोले बाबा का अब तक पता नहीं

हाथरस के सत्संग में भगदड़ की घटना के बाद से ही मधुकर फरार था। उसके परिवार के लोग भी अभी फरार बताए जा रहे हैं। देव प्रकाश मधुकर से पहले घटना के संबंध में 6 और लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। देव प्रकाश मधुकर को नारायण साकार हरि उर्फ भोले बाबा का खास बताया जा रहा है।

हाथरस के सिकंदराराऊ में बीते मंगलवार को हुई भगदड़ के मामले में नारायण साकार हरि उर्फ भोले बाबा के खास और सत्संग के मुख्य आयोजक देव प्रकाश मधुकर को गिरफ्तार कर लिया गया है। उस पर 1 लाख का इनाम घोषित था। वहीं, भोले बाबा का अब तक अता-पता नहीं है। भोले बाबा के वकील ने शुक्रवार को ये जरूर कहा था कि नारायण साकार हरि यूपी में ही हैं।

भोले बाबा के खास देव प्रकाश मधुकर के बारे में कहा जा रहा है कि उसने पुलिस के सामने सरेंडर किया है। वहीं, न्यूज चैनल आजतक के मुताबिक देव प्रकाश मधुकर दिल्ली के नजफगढ़ और उत्तम नगर के बीच एक अस्पताल में था। हाथरस पुलिस जानकारी मिलने पर वहां पहुंची और फिर देव प्रकाश मधुकर ने पुलिस के सामने सरेंडर किया। हाथरस के सत्संग में भगदड़ की घटना के बाद से ही मधुकर फरार था। उसके परिवार के लोग भी अभी फरार बताए जा रहे हैं। देव प्रकाश मधुकर से पहले घटना के संबंध में 6 और लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। देव प्रकाश मधुकर को नारायण साकार हरि उर्फ भोले बाबा का खास बताया जा रहा है। जानकारी मिली थी कि हाथरस में सत्संग के बाद जब भगदड़ मची और 121 लोगों की जान गई, तो मधुकर से भोले बाबा ने काफी देर तक फोन पर बात भी की थी।

इस बीच, हाथरस भगदड़ मामले में तेजी से जांच हो रही है। एसआईटी ने अब तक 90 लोगों के बयान भी दर्ज किए हैं। आगरा जोन के एडीजी अनुपम कुलश्रेष्ठ हाथरस हादसे की जांच कर रही एसआईटी टीम की कमान संभाले हुए हैं। एसआईटी में 3 सदस्य हैं। अभी विस्तृत रिपोर्ट तैयार करने का काम चल रहा है। इससे पहले शुक्रवार को खबर आई थी कि एसआईटी ने हाथरस मामले की रिपोर्ट योगी आदित्यनाथ की सरकार को सौंप दी है, लेकिन अनुपम कुलश्रेष्ठ ने बयान जारी कर इसका खंडन किया था। एडीजी के मुताबिक अब तक मिले सबूत आयोजकों के दोषी होने का संकेत दे रहे हैं।

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In खास खबर
Comments are closed.

Check Also

‘मेरी दुल्हन कहां…ये लड़की कौन…’ जयमाल की रस्म के दौरान दूल्हे ने काटा हंगामा

‘मेरी दुल्हन कहां…ये लड़की कौन…’ जयमाल की रस्म के दौरान दूल्हे ने काटा हंगामा Bihar News: ब…