Home सहरसा गांधी का जीवन ही सबसे बड़ा संदेश

गांधी का जीवन ही सबसे बड़ा संदेश

0 second read
Comments Off on गांधी का जीवन ही सबसे बड़ा संदेश
0
273

गांधी का जीवन ही सबसे बड़ा संदेश

महात्मा गांधीजी के 150वीं जयंती के अवसर पर प्रमंडलीय सभागार में आयुक्त के.सेंथिल कुमार ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। उन्होंने कहा कि गांधीजी का जीवन हीं उनका सबसे बड़ा संदेश है।

आज समाज में असहिष्णुता, हिंसा बढ़ रही है जिसमें गांधीजी का जीवन दर्शन एवं संदेश प्रासंगिक है और हमें इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। आयुक्त ने कहा कि 1917 में नील सत्याग्रह के लिए गांधीजी का चम्पारण में आगमन हुआ था। बिहार से हीं उनके सत्य, अंहिसा, सत्याग्रह का प्रयोग आरंभ हुआ। इस प्रकार उनका जुड़ाव बिहार से काफी रहा है।

अगले वर्ष से मनाया जाएगा प्रमंडल स्थापना दिवस : आयुक्त ने कहा कि आज हीं के दिन कोसी प्रमंडल की स्थापना हुई थी। जानकारी होने के कारण इस वर्ष कोसी प्रमंडल का स्थापना दिवस मनाया नहीं जा सका है। आयुक्त ने कहा कि अगले वर्ष समारोह पूर्वक प्रमंडल के स्थापना दिवस को कोसी दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस मौके पर आयुक्त के सचिव रामेश्वर पाण्डेय, उप निदेशक सह डीपीआरओ दिलीप कुमार देव, आरडीडीई डा. तकीउद्दीन अहमद सहित अन्य ने भी चित्र पर माल्यार्पण किया।

डीएम सहित अन्य पदाधिकारियों ने किया माल्यार्पण : कलेक्ट्रेट परिसर में महात्मा गांधी व पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादूर शास्त्री के जयंती के अवसर पर डीएम डा. शैलजा शर्मा ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर अपनी श्रद्धांसुमन अर्पित की। इस मौके पर एडीएम धीरेन्द्र झा, उप विकास आयुक्त राजेश कुमार सिंह, अपर समाहर्ता लोक शिकायत पुरूषोतम पासवान, निदेशक राकेश कुमार, सदर एसडीओ शंभूनाथ झा, डीईओ जयशंकर ठाकुर, उप निर्वाचन पदाधिकारी सोहेल अहमद, अल्पसंख्यक पदाधिकारी रश्मि, आईटी मैनेजर लखीन्द्र महतो सहित अन्य मौजूद थे।

स्रोत-हिन्दुस्तान

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In सहरसा
Comments are closed.

Check Also

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख सभी हैं दंग

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख…