Home सहरसा सहरसा के सोनवर्षाराज में जर्जर सड़क बन रही जानलेवा

सहरसा के सोनवर्षाराज में जर्जर सड़क बन रही जानलेवा

0 second read
Comments Off on सहरसा के सोनवर्षाराज में जर्जर सड़क बन रही जानलेवा
0
180

सहरसा के सोनवर्षाराज में जर्जर सड़क बन रही जानलेवा

सोनवर्षा राज प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न मुख्य मार्ग वर्षों से जर्जर हालत में होने के कारण अब जानलेवा बन गई है। जिस पर बड़े या छोटे वाहनों की आवाजाही में हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। जबकि छोटी छोटी घटनाएं प्रतिदिन घटती ही रहती है।

सडक़ मे छोटे छोटे तालाब की तरह बने गढ्ढे के कारण जाम की समस्या लोगों के दिनचर्या में शामिल हो गई है। क्षेत्र के माली खाडा मुख्य मार्ग, मैना से पदमपुर होते हुए देहद जाने वाली मुख्य सडक़, सोनवर्षा सहशौल मुख्य मार्ग, सहशौल से पामा मुख्य मार्ग, मंगलाबाजार से महुआबाजार मुख्य मार्ग, झिटकिया से महुआबाजार मुख्य मार्ग, महुआबाजार से मलौधा मुख्य मार्ग, विराटपुर से गढबजार होते हुए बरैठ मुख्य मार्ग, देहद मोड से हास्पिटल होते हुए सिमरीबख्तियारपुर प्रखंड को जोडने वाली एक मात्र मुख्य सडक़ वर्षों से जर्जर हालत में होने के कारण दयनीय स्थिति में है। सभी सड़कों में सैकड़ों छोटे छोटे तालाब की तरह बने गढ्ढे व रेनकट दुर्घटना को आमंत्रित कर रही है। बडी वाहन की बात तो दूर दोपहिया वाहनों का परिचालन भी जोखिम भरा रहता है। जबकि माली खाडा मुख्य मार्ग में बने बडे बडे सैकड़ों गढ्ढे के कारण प्रतिदिन गाडियों का फसना लगा रहता है। जानलेवा सडक़ पर ओवरलोड भारी वाहनों के परिचालन के कारण बगल से चलने वाले छोटी वाहन पर भी पलटने का खतरा बना रहता है। लेकिन मजबूरी बस जान जोखिम में डाल कर आमजन सहित राहगीर आवाजाही करने को मजबूर है। लेकिन विभाग सहित स्थानीय प्रशासन कुंभकर्ण की नींद सौ रही है।और आमजन की सुधी लेने वाला कोई नहीं है।सडक़ की स्थिति दयनीय होने से सभी सवारी गाड़ी अपने निर्धारित रूट को छोड़ सोनवर्षा से अतलखा होते हुए मौरा चौक के रास्ते से बिते एक महीने से चलाई जा रही है।जिससे लोगों की परेशानियां काफी बढ गई है।और मिनटों का सफर घंटों में तय करने को मजबूर है। पूरे क्षेत्र में एक मात्र सडक़ सोनवर्षा अतलखा मुख्य मार्ग छोडकर बांकी सभी सडकों की स्थिति दयनीय बनी हुई है। वहीं सडकों में बने रेनकट से रात के अंधेरे में वाहन चालकों को आवाजाही करने में बहुत मुशकिलों का सामना करना पड़ता है। जबकि स्थानीय लोगों द्वारा सभी सडकों की मरम्मति कराने की मांंग विभाग सहित जिले के आलाधिकारियों से दर्जनों बार किया है। लेकिन आजतक मरम्मती कार्य नहीं करवाया जा सका है। जिससे स्थिति दिनबदिन भयंकर रूप ले रहा है।

स्रोत-हिन्दुस्तान

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In सहरसा
Comments are closed.

Check Also

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख सभी हैं दंग

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख…