Home खास खबर CM नीतीश की फिसली जुबान, कहा- इच्छा है कि नरेंद्र मोदी देश के ‘मुख्यमंत्री’ बनें

CM नीतीश की फिसली जुबान, कहा- इच्छा है कि नरेंद्र मोदी देश के ‘मुख्यमंत्री’ बनें

2 second read
Comments Off on CM नीतीश की फिसली जुबान, कहा- इच्छा है कि नरेंद्र मोदी देश के ‘मुख्यमंत्री’ बनें
0
73

CM नीतीश की फिसली जुबान, कहा- इच्छा है कि नरेंद्र मोदी देश के ‘मुख्यमंत्री’ बनें

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार चुनावी रैलियां करते नजर आ रहे हैं. पीएम मोदी भी लगातार बिहार दौरे पर आ रहे हैं और जनसभा को संबोधित कर रहे हैं. इन सबके बीच सीएम नीतीश की एक बार फिर से भाषण देते हुए जुबान फिसल गई.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार चुनावी रैलियां करते नजर आ रहे हैं. पीएम मोदी भी लगातार बिहार दौरे पर आ रहे हैं और जनसभा को संबोधित कर रहे हैं. इन सबके बीच सीएम नीतीश की एक बार फिर से भाषण देते हुए जुबान फिसल गई. 26 मई को एक सभा को संबोधित करते हुए सीएम स्लिप ऑफ टंग के शिकार हो गए और पीएम मोदी के मुख्यमंत्री बनने की कामना कर दी. सीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री बनाए. रविवार को नीतीश कुमार एनडीए प्रत्याशी रविशंकर प्रसाद के लिए चुनावी सभा को संबोधित करने के लिए पटना साहिब पहुंचे थे. जहां बोलते-बोलते सीएम नीतीश गड़बड़ा गए और कह दिया कि नरेंद्र मोदी फिर से मुख्यमंत्री बनें और देश के साथ-साथ राज्य का विकास हो.

फिर फिसली नीतीश कुमार की जुबान

आपको बात दें कि सीएम नीतीश ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद के लिए लोगों से वोट अपील करते हुए कमल छाप पर वोट देने का आग्रह किया और कहा कि हम चाहते हैं कि बिहार में एनडीए 40 सीटों पर विजय हो और देशभर में एनडीए को 400 सीट मिले. आगे बोलते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी को फिर से मुख्यमंत्री बनाए और देश का बिहार का विकास हो. जैसे ही सीएम की जुबान फिसली ये सुनते ही उनके अंगरक्षक ने कान में आकर कुछ कहा. जिसके बाद नीतीश ने कहा कि अरे वह तो प्रधानमंत्री हैं और उनको फिर से पीएम बनाना है.

प्रधानमंत्री मोदी को बताया मुख्यमंत्री

वहीं, आरजेडी द्वारा बिहार में जातीय गणना कराए जाने को लेकर नीतीश कुमार ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सबकुछ हमने किया है. हम उस समय भी जातीय गणना का एजेंडा लाने के लिए कहते थे, लेकिन उस वक्त कोई तैयार नहीं हुआ. सातवें चरण में प्रदेश के 8 सीटों पर मतदान होना है, जिसमें काराकाट, पाटलिपुत्र, पटना साहिब, आरा, बक्सर, सासाराम, जहानाबाद और नालंदा शामिल है. इन सीटों के जरिए कई दिग्गज नेताओं की किस्मत दांव पर लगी हुई है.

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In खास खबर
Comments are closed.

Check Also

Maharaj: विवादों में फंसी आमिर खान के बेटे जुनैद की पहली फिल्म, जानें किस वजह से उठ रही बैन की मांग?

Maharaj: विवादों में फंसी आमिर खान के बेटे जुनैद की पहली फिल्म, जानें किस वजह से उठ रही बै…