Home खास खबर लंदन: यह ड्राइवर 39 शव आख़िर कहां से लाया?

लंदन: यह ड्राइवर 39 शव आख़िर कहां से लाया?

2 second read
Comments Off on लंदन: यह ड्राइवर 39 शव आख़िर कहां से लाया?
0
672

लंदन: यह ड्राइवर 39 शव आख़िर कहां से लाया?

ब्रिटेन के एसेक्स में एक गाड़ी में मिले 39 शवों की पहचान का काम शुरू कर दिया गया है.

पुलिस ने पहले कहा था कि हो सकता है यह ट्रक बुल्गारिया से आया सकता है लेकिन बाद में बताया कि ये बेल्जियम से यूके आया था. ट्रक टेम्स नदी के पास परफ्लीट पहुंचा था.

ग्रेज़ के वाटरग्लेड इंडस्ट्रियल पार्क के पास ऐंबुलेंस स्टाफ़ ने गाड़ी में शव बरामद किए. मरने वालों में 38 वयस्क हैं जबकि एक की उम्र 20 साल से कम है.

इस सिलसिले में गाड़ी के ड्राइवर 25 साल के मो रॉबिनसन को गिरफ्तार किया गया है. रॉबिनसन उत्तरी आयरलैंड के आर्मगा काउंटी के पौर्टाडाउन से हैं. पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है.

एसेक्स पुलिस की आला आधिकारी पिप्पा मिल्स ने कहा है कि पुलिस गाड़ी को एक सुरक्षित स्थान पर ले गई है. उनका कहना है कि सभी शवों को पूरे सम्मान के साथ गाड़ी से निकाला जाएगा.”

पुलिस का कहना है कि कंटेनर खींचने वाली इस गाड़ी का पहला हिस्सा उत्तरी आयरलैंड से आया था और परफ्लीट से कंटेनर गाड़ी पर लादा गया था.

इसके बाद ये गाड़ी कंटेरनर के साथ यहां से आगे बढ़ गई थी. इसके क़रीब आधे घंटे बाद ही ऐंबुलेंस स्टाफ़ ने गाड़ी के कंटेनर में 39 शव बरामद किए.

पुलिस ने गुज़ारिश की है कि अगर किसी के पास इस गाड़ी ये जुड़ी कोई जानकारी हो तो वो पुलिस से संपर्क कर सकते हैं.

नेशनल क्राइम एजेंसी ने कहा है कि उन्होंने मृतकों की पहचान में मदद के लिए अपने अधिकारियों को भेजा है जो “इस घटना से संबंधित आयोजित अपराधी गुटों की पहचान और उनकी भूमिका पता लगाने में मदद करेंगे.”

 

 

बुल्गारिया के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा है कि ये गाड़ी बुल्गारिया में आरलैंड मूल के एक व्यक्ति की कंपनी के नाम से पंजीकृत है.

उन्होंने कहा कि हो सकता है कि मृतकों में “बुल्गारिया का कोई न हो”.

मौक़े पर मौजूद बीबीसी संवाददाता एड थोमस

ग्रेज़ में मौजूद बीबीसी संवाददाता एड थोमस ने कहा है कि जब इस गाड़ी को इंडस्ट्रियल पार्क से बाहर ले जाया जा रहा था उस वक़्त सभी पुलिस ने एक मिनट के लिए सम्मान में अपने सिर झुका लिए थे. इस गाड़ी के कंटेनर में 39 लोगों के शव थे.

वहां मौजूद कई आला अधिकारी इस घटना से चिंतित दिख रहे थे.

उनका कहना था कि उनकी पहली प्रथमिकता सभी मृतकों को सम्मान देना और उनकी पहचान सुनिश्चित कर उनके परिचितों को उनकी मौत की ख़बर देना है.

ब्रितानी प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने घटना पर दुख जताया है और कहा है कि ये दिल दहलाने वाली घटना है.

बुधवार को संसद में किए गए सवालों के उत्तर में उन्होंने कहा, “मैं इस मामले में जानकारी रख रहा हूं. मैं गृह मंत्रालय और एसेक्स पुलिस के साथ लगातार संपर्क में हूं और हम ये पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि आख़िर हुआ क्या था.”

इधर कंज़र्वेटिव काउंसिलर जेम्स हेडन ने लोगों से अपील की है कि क्या हुआ इसके बारे में वो कहानियां बनाने से बचें.

स्रोत-BBC

Load More Related Articles
Load More By Seemanchal Live
Load More In खास खबर
Comments are closed.

Check Also

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख सभी हैं दंग

पूर्णिया में 16 KG का मूर्ति बरामद, लोगों ने कहा-यह तो विष्णु भगवान हैं, अद्भुत मूर्ति देख…